Alkyne By Kumar Santosh Sir

Alkyne By Kumar Santosh Sir.इसके पहले हमने देखा दो प्रकार के हाइड्रोकार्बन होता हैं (1) एल्केन जो की सैचुरेटेड सिंगल बांड वाला होता हैं और(2) एल्कीन डबल बांड वाला अनसैचुरेटेड होता हैं,जिसमे एल्केन की तुलना में 2 हाइड्रोजन कम होते हैं।हाइड्रोकार्बन का एक और वर्ग या प्रकार होता हैं,जिसे एल्काईन्स(alkynes) के नाम से जानते हैं।

Alkyne By Kumar Santosh Sir

एल्काईन्स में एल्केन की तुलना में 4 हाइड्रोजन कम होते हैं।यह एल्कीन की तुलना में अधिक असममित होता हैं।इसमें ट्रिपल बांड होता हैं।हाइड्रोकार्बन की सीरीज का फर्स्ट और मोस्ट इम्पोर्टेन्ट सदस्य एसीटीलीन हैं। CH≡CH

मेथड ऑफ़ प्रिपरेशन

एल्काईन्स को आगे दी गई मेथड के द्वारा बनाया जाता हैं:-

(1) विसिनल डाईहेलाईड (Vicinal Di halide) का  डी हाइड्रो हेलोजेनेसन  (Dehydrohalogenation)

किसी यौगिक में दो सटे हुए कार्बन एटम से दो हलोजन एटम का जुडे हो तो उसे  विसिनल डाईहैलाईड़(Vicinal Di halide) कहा जाता हैं।एल्काईन्स को विस डाईहैलाईड़ पर अल्कोहोलिक पोटेशियम हाईड्राक्साइड (KOH) की क्रिया करने से प्राप्त विनाइल हेलाईड पर सोडामाईड (NaNH2) की क्रिया से प्राप्त किया जाता हैं।

(2) टेट्राहेलाईड (Tetrahalide) का  डीहेलोजेनेसन  (Dehalogenation)

जब 1,1,2,2 टेट्राहेलाईड को जिंक डस्ट के साथ अल्कोहल की उपस्थिति में गर्म करने पर एल्काईन्स बनता हैं।

(3) 1° एल्काइल अल्कोहल के साथ सोडियम एसिटाइलाइड की प्रतिक्रिया

जब एसिटिलीन की क्रिया Na के साथ अमोनिया की उपस्थिति में करते हैं, तो सोडियम एसिटिलाइड प्राप्त होता हैं।

यह सोडियम साल्ट प्राइमरी अल्काइल हेलाईड़ के साथ रियेक्ट करके एल्काईन्स बनाता हैं।

(4) कैल्सियम कार्बाइड(CaC2) के साथ वाटर(H2O) की प्रतिक्रिया

कैल्सियम कार्बाइड की वाटर के साथ रिएक्शन करने पर एसिटिलीन प्राप्त होता हैं ।

फिजिकल प्रॉपर्टी

(1) पहले तीन सदस्य गैस हैं,अगले आठ लिक्विड हैं,और हायर एल्काईन्स सॉलिड हैं। एसिटिलीन को छोड़कर यह रंगहीन,गंधहीन होते हैं।एसिटिलीन की गंध लहसुन  के समान होती हैं।

(2) यह वाटर में कम विलय होते हैं,लेकिन आर्गेनिक साल्वेंट जैसे बेंजीन,एसीटोन और एथिल अल्कोहल में तेजी से घुल जाते हैं ।

एल्काईन के मेल्टिंग और बोइलिंग पॉइंट

नाम फ़ॉर्मूला मेल्टिंग पॉइंट बोइलिंग पॉइंट
एसिटिलीन CH≡CH −80.8 °C -84 °C
प्रोपाइन CH3C≡CH −102.7 °C -23.2 °C
1-ब्यूटाइन CH3CH2C≡CH −125.7 °C 8.08 °C
1-पेंटाइन CH3CH2CH2C≡CH −106 to −105 °C 40.2 °C

(3) इनके मेल्टिंग पॉइंट,बोइलिंग पॉइंट और स्पेसिफिक ग्रेविटी ,मॉलिक्यूलर वेट के बड़ने के साथ बढती हैं।

(4) I .R. स्पेक्ट्रम :

C-H  स्ट्रेचिंग अवशोषण -3300 cm-1

C≡C स्ट्रेचिंग अवशोषण 2100-2260 cm-1

केमिकल प्रॉपर्टी

एल्काईंन,एल्कीन के समान योगात्मक रिएक्शन देते हैं ।

एल्काईंन की कुछ इम्पोर्टेन्ट सामान्य केमिकल रिएक्शन नीचे वर्णित हैं :-

(1) हाइड्रोजन का योग (Addition of hydrogen)

Ni,Pt या Pd की उपस्थिति में एल्काईंन हाइड्रोजन के दो मॉलिक्यूल के साथ पहले एल्कीन और आगे एल्केन बनाते हैं।

(2) हेलोजन का योग (Addition of halogen)

हेलोजेन,एल्कीन से ऐड होकर दो स्टेप में पहले डाई-हेलाइड फिर टेट्रा-हेलाइड बनाते हैं।

(3) हेलोजन एसिड  का योग (Addition of halogen acid)

हेलोजेन एसिड सममित एल्काईंन के साथ दो स्टेज में  ऐड होता हैं।एक हेलोजेन एसिड का सममित एल्काईंन के साथ ऐड होकर प्रोडक्ट के रूप में एल्कीन के असममित व्युत्पन्न बनाता हैं।

 

 

इस वेबसाइट पर बी.एससी. प्रथम से लेकर बी.एससी. तृतीय वर्ष chemistry के सारे टॉपिक और प्रैक्टिकल, आल सिलेबस,इम्पोर्टेन्ट प्रशन,सैंपल पेपर, नोट्स chemistry QUIZ मिलेंगे.B.SC.प्रथम वर्ष से लेकर तृतीय वर्ष तक के 20-20 QUESTION के हल मिलेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*