Computer kya Hain ? इसकी विशेषताओं को समझाइए 2.0 Its Useful

Computer kya Hain ? इसकी विशेषताओं को समझाइए 2.0 Its Useful.यह ब्लॉग में NEP 20 बीएससी फर्स्ट इयर के मेजर-II/माइनर/ओपन इलेक्टिव विषय से सम्बंधित हैं ।नीचे दिया प्रश्न एवं इसका उत्तर यूनिट 3 के कंप्यूटर for chemist से लिया गया हैं ।

By Kumar Santosh

Contents hide
1 Computer kya Hain ? इसकी विशेषताओं को समझाइए 2.0 Its Useful

Computer kya Hain ? इसकी विशेषताओं को समझाइए 2.0 Its Useful

कम्प्यूटर एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस (Electronic device) है। कम्प्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण होता है जो डेटा और निर्देशों को संसाधित करता है। यह एक प्रोग्राम चलाने योग्य मशीन होता है जो डेटा को आवश्यक रूप से संरचित रूप से संसाधित करता है और संचालित करता है।

कम्प्यूटर की विशेषताओं में शामिल हैं -Computer kya Hain ?

सक्रियता:

कम्प्यूटर एक सक्रिय उपकरण है जो उपयोगकर्ता की गतिविधि के अनुसार काम करता है।

ट्रांज़ेक्शन:

कम्प्यूटर ट्रांज़ेक्शनल उपकरण होता है, जिससे उपयोगकर्ता डेटा को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जा सकता है।

त्वरितता:

कम्प्यूटर त्वरित होता है और विभिन्न प्रकार के काम एक साथ कर सकता है।

संचालन:

कम्प्यूटर एक स्वतंत्र उपकरण होता है जो बिना मानव हस्तक्षेप के स्वचालित रूप से काम करता है।

शक्ति:

कम्प्यूटर तेजी से बढ़ती ताकत वाले उपकरण होते हैं जो बड़ी मात्रा में डेटा को संसाधित कर सकते हैं।

मानव या यूजर (User)Computer kya Hain ?

द्वारा प्रदत्त (Supplied) डाटा को स्वीकार (Accept) करना ।

इनपुट (Input)

संग्रह या स्टोर (Store) करके निर्देशों को क्रियान्वित करना ।

गणितीय क्रियाओं

(Mathematical operations) व तार्किक क्रियाओं (Logical operation) को क्रियान्वित करना ।

आउटपुट

मानव या यूजर को आवश्यकतानुसार आउटपुट या परिणाम देना।

इसके निम्नलिखित भाग या इकाइयाँ (units) होती हैं-Computer kya Hain ?

(1) कम्प्यूटर हार्डवेयर (Computer Hardware) –

कम्प्यूटर के यांत्रिक (Mechanical), वैद्युत (Elec trical) तथा इलेक्ट्रॉनिक (Electronic) भाग कम्प्यूटर हार्डवेयर कहलाते हैं।

(2) कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर (Computer Software) –

ये वे प्रोग्राम हैं, जो कम्प्यूटर को यह निर्देश देते हैं कि किस प्रकार डाटा प्रोसेस (Process) किया जाये और आवश्यक सूचना (Information) जनित (Gener ate) की जाये।

(3) कम्प्यूटर पर्सनल (Computer Personal) या यूजर (User ) –

वे लोग जो कम्प्यूटरीकृत (Com- puterized) डाटा तैयार करते हैं, प्रोग्राम (Program) लिखते हैं, कम्प्यूटर को चलाते हैं और आउटपुट प्राप्त करते हैं, कम्प्यूटर पर्सनल या कम्प्यूटर यूजर कहलाते हैं।
कम्प्यूटर सिस्टम:-हार्डवेयर—सॉफ्टवेयर—-यूजर

कम्प्यूटर की विशेषताएँ (Characteristics of Computer or Capability)—

कम्प्यूटर का उपयोग व्यापक है। विभिन्न क्षेत्रों में कम्प्यूटर विभिन्न लोगों की सहायता कर रहा है। Computer kya Hain ? इसकी विशेषताएँ निम्नलिखित हैं-

(1) गति (Speed) –

कम्प्यूटर किसी भी कार्य को बहुत तेजी से कर सकता है। कम्प्यूटर कुछ क्षणों में गुणा/भाग और जोड़/घटाने जैसी क्रियाएँ आसानी से कर सकता है। यदि आपको लगभग 440 x 46 का गुणा करना हो तो इसमें आपको लगभग 1 से लेकर 2 मिनट का समय लग सकता है। यह कार्य कोई कैल्कुलेटर से करता है तो 5 sec. लग सकता है। लेकिन यही कार्य आधुनिक कम्प्यूटर में किया जाये तो बहुत ही कम सेकण्डों में होगा। बहुत से प्रोग्राम को कुछ ही सेकण्डों में हल करके रिजल्ट प्रदान करता है।

(2) स्वचालन (Automation) –

कम्प्यूटर अपना कार्य, प्रोग्राम के एक बार लोड हो जाने पर स्वतः करता रहता है। उदाहरण किसी डेटा एन्ट्री प्रोग्राम पर कार्य कर रहे ऑपरेटर को स्वयं रिपोर्ट तैयार करने की आवश्यकता नहीं होती अपितु कम्प्यूटर प्रविष्ट डेटा के आधार पर स्वयं ही रिपोर्ट देते रहता है।
है।

(3) सार्वभौमिकता (Versatility) –

कम्प्यूटर अपनी सार्वभौमिकता के गुण के कारण बड़ी तेजी से सारी दुनिया पर छाता जा रहा है। Computer kya Hain ? गणितीय कार्यों को सम्पन्न करने के साथ-साथ व्यावसायिक कार्यों के लिए प्रयोग किया जाने लगा है। कम्प्यूटर में प्रिंटर संयोजित करके सभी प्रकार की सूचनाएँ कई रूपों में प्रस्तुत की जा सकती हैं।

(4) कर्मठता (Diligence) –

आम आदमी किसी भी कार्य को निरंतर करते हुए थक जाता है परंतु कम्प्यूटर बिना रुके कई घंटों तक निरंतर कार्य कर सकता है। इसके कार्य करने की क्षमता में न तो कमी आती है और न ही कार्य के परिणाम की शुद्धता घटती है ।

(5) उच्च संग्रहण क्षमता (High Storage capacity) –

एक कम्प्यूटर सिस्टम की डाटा संग्रहण क्षमता अत्यधिक होती है। कम्प्यूटर में संग्रहण क्षमता अच्छी होती है। यह डेटा को लम्बे समय तक संग्रह करके रख सकता है।

(6) शुद्धता (Accuracy) –

कम्प्यूटर अपना कार्य बिना किसी गलती के करता है। कम्प्यूटर द्वारा गलती किये जाने पर कई उदाहरण सामने आते हैं, लेकिन इन सभी गलतियों में या तो गलती कम्प्यूटर में डेटा प्रविष्ट करते समय की गयी होती है या यह कभी प्रोग्राम के विकास के समय की होती है। Computer kya Hain ? कभी-भी स्वयं गलती नहीं करता है ।

(7) याद रखने की शक्ति (Power of Remembrance) –

कम्प्यूटर सारी बातें, चाहे वह महत्वपूर्ण हो या न हो को संगृहीत करके रखता है तथा बाद में कभी-भी किसी भी सूचना को आवश्यकता पड़ने पर उपलब्ध कराता है।

(8) विश्वसनीयता (Reliability) –

पहले उल्लेख किया जा चुका है कि कम्प्यूटर में संग्रहण, स्वचालन डेटा की यथास्थिति में पुनः प्राप्ति, कर्मठता तथा उच्च गति जैसी क्षमताएँ विद्यमान हैं।

Leave a Comment