Claisen Rearrangement-क्लेजन पुनर्विन्यास

Claisen Rearrangement-क्लेजन पुनर्विन्यास.जब एलिल एरील ईथर को 200डिग्री सेल्सियस पर गरम किया जाता हैं.तब एलिल समूह ईथर ऑक्सीजन से प्रथक होकर रिंग के कार्बन पर o-स्थिति पर चला जाता हैं.इस अभिक्रिया को क्लेजन पुनर्विन्यास कहते हैं.जब रिंग के दोनों ओर्थो स्थान पहले से घिरे रहते हैं,तब एलिल समूह p-स्थान पर माइग्रेट हो जाता हैं.

Claisen Rearrangement-क्लेजन पुनर्विन्यास

इस वेबसाइट पर बी.एससी. प्रथम से लेकर बी.एससी. तृतीय वर्ष chemistry के सारे टॉपिक और प्रैक्टिकल, आल सिलेबस,इम्पोर्टेन्ट प्रशन,सैंपल पेपर, नोट्स chemistry QUIZ मिलेंगे.B.SC.प्रथम वर्ष से लेकर तृतीय वर्ष तक के 20-20 QUESTION के हल मिलेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*