मृदा की सैंपलिंग और उसके PH मान का निर्धारण करना

मृदा की सैंपलिंग और उसके PH मान का निर्धारण करना.यह प्रैक्टिकल स्नातक प्रथम वर्ष के व्यावसायिक पाठ्यक्रम से सम्बंधित हैं.इस प्रयोग को  सभी संकाय(बी.एससी,बी.कॉम,आर्ट )के  छात्र/छात्राओ द्वारा करना आवश्यक हैं.इसे प्रायोगिक फाइल में लिखना हैं.

मृदा की सैंपलिंग और उसके PH मान का निर्धारण करना

मृदा नमूनाकरण क्या है?

मृदा नमूना करण मिट्टी का एक छोटा सा नमूना लेने की प्रक्रिया है, जिसे बाद में पोषक तत्व निर्धारित करने के लिए एक प्रयोगशाला में भेजा जाता है। … मिट्टी का विश्लेषण मिट्टी के नमूने लेकर और प्रयोगशाला परीक्षण करके किया जाता है, जिसके बाद परिणामों की व्याख्या की जाती है।

PH मान का निर्धारण

एक पोटेंशियोमीटर का उपयोग करके मिट्टी के पीएच का मापन पानी में निलंबित मिट्टी और 0.01मोलर (एम) कैल्शियम क्लोराइड समाधान में अम्लता या क्षारीयता की डिग्री निर्धारित करता है। पोटेंशियोमीटर को नमूनों के विश्लेषण से पहले ज्ञात पीएच के बफर समाधान के साथ कैलिब्रेट किया जाता है।

इस वेबसाइट पर बी.एससी. प्रथम से लेकर बी.एससी. तृतीय वर्ष chemistry के सारे टॉपिक और प्रैक्टिकल, आल सिलेबस,इम्पोर्टेन्ट प्रशन,सैंपल पेपर, नोट्स chemistry QUIZ मिलेंगे.B.SC.प्रथम वर्ष से लेकर तृतीय वर्ष तक के 20-20 QUESTION के हल मिलेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*